दिल्ली का प्रदूषण एक बार फिर हुआ जानलेवा, सांस लेने में घुटन ।ये दिल्ली है मेरे यार।

दिल्ली का प्रदूषण एक बार फिर हुआ जानलेवा, सांस लेने में घुटन ।ये दिल्ली है मेरे यार।

Pollution In Delhi: राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में बृहस्पतिवार को प्रदूषण युक्त कोहरे की परत छाने से छठ पूजा के दौरान श्रद्धालुओं को सूर्य के दर्शन आंशिक रूप से ही हो पाए. शहर में मौसम संबंधी प्रतिकूल परिस्थितियों के कारण एक बार फिर वायु गुणवत्ता गंभीर श्रेणी में पहुंच गई. विज्ञान एवं पर्यावरण केंद्र (सीएसई) ने कहा कि कोहरा एक सार्वजनिक स्वास्थ्य आपात स्थिति है. सीएसई की कार्यकारी निदेशक अनुमिता रॉयचौधरी ने कहा, ‘‘इस गंभीर स्थिति से निपटने के लिए उन मोर्चों पर तत्काल कार्रवाई की जरूरत है, जिससे प्रदूषण अधिक फैलता है जैसे वाहनों से, कुछ उद्योगों से, अपशिष्ट जलाने से. वहीं, भवन निर्माण, सड़क जैसे धूल फैलाने वाले स्रोतों पर तत्काल कार्रवाई करने की जरूरत है.” दिल्ली में सुबह 10 बजे एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) 407 दर्ज किया गया.

दिल्‍ली में प्रदूषण की स्थिति बेहद गंभीर होती जा रही है। ठंड बढ़ने के साथ-साथ प्रदूषण भी चिंताजनक रफ्तार से बढ़ रहा है। दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत के कई शहरों में लोग वायु प्रदूषण की वजह से सांस लेने में परेशानी महसूस कर रहे हैं। घुटन का आलम ऐसा है कि दो कदम चलते ही सांस फूलने लगती है। बुधवार सुबह दिल्‍ली का एयर क्‍वालिटी इंडेक्‍स (AQI) 382 दर्ज किया गया जो कि ‘बेहद खराब’ है। पृथ्‍वी मंत्रालय के तहत आने वाली एजेंसी SAFAR ने हेल्‍थ एडवायजरी में लोगों को जहां तक हो सके, बाहर कदम न रखने की सलाह दी है।

SAFAR के मुताबिक, बादलों की वजह से मिक्सिंग हाइट अगले दो दिनों तक कुछ कम रहेगी, जिसकी वजह से स्मॉग दिख सकता है। लेकिन एक्यूआई बेहद खराब स्तर पर बनेगा और लोगों की परेशानियां खत्म नहीं होंगी। दिल्‍ली-एनसीआर में प्रदूषण से जुड़े ताजा अपडेट्स के लिए बने रहें हमारे यानी न्यूज डे 18 के साथ।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: